11th Economics ,Chapter 4: PRESENTATION OF DATA

11th Hindi Medium
  Tabulation –A table is a systematic arrangement of related statistical data in columns and rows with some predetermined aim or purpose.   Objectives of Tabulation:   Helps in understanding and interpreting the data easily. It helps in comparing data. It saves space and time. Tabulated data can be easily presented in the form of diagrams and graphs.   Main parts of a table.   Table Numbers: If more than one table has been used or presented at one place, it is always better to give them numbers. It makes further reference to them easy.   Title: Title is to the table what heading is to an essay. It appears at the top of a table and gives idea about what is contained in the main body of the table.…
Read More

11th Development Chapter- 4 औधोगिक विकास की रणनीति

11th Hindi Medium
  एक अर्थव्यवस्था में उद्धोग के महत्व को बतलाने वाले बिंदु : अर्थव्यवस्था मए संरचनात्मक रूपांतरण लाता है : औध्दोगिक विकास अर्थव्यवस्था में संरचनात्मक परिवर्तन/रूपांतरण लाता है I उद्दोगो के आभाव में आर्थिक सम्वृध्दी कृषि विकास पर आश्रित रहती है और मनुष्य केवल अनाज तथा मोटे कपड़ो जैसी मजदूरी वस्तुओ पर मात्र निर्भर रहते है I   उद्धोग रोजगार का एक श्रोत है : उद्दोग रोजगार का महत्वपूर्ण श्रोत है विशेषकर जब एक देश की जनसंख्या कृषि भूमि की अव्शोष्ण क्षमता से अधिक बढ़ जाती है I   उद्धोग कृषि के यंत्रीकृत साधन उपलब्ध कराता है : कृषि के यंत्रीकरण में उध्दिग निर्णायक भूमिका निभाते है I मशीनों का प्रयोग उधोगो के विकास एवं सम्वृध्दी के कारण संभव हुआ है I यंत्रीकरण के कारण कृषि उत्पादकता में प्रतिपादक व्रद्धी हुई…
Read More

11th development Chapter-7 निर्धनता

11th Hindi Medium
निर्धनता क्या है और निर्धन कौन है ? निर्धनता से अभिप्राय है उस स्थिति से है जब कोई व्यक्ति अपनी जीवन न्यूनतम उपभोग आवश्यकताओ की प्राप्ति नहीं कर पाता , न्यूनतम आवश्यकताओ में भोजन, वस्त्र, मकान, शिक्षा तथा स्वास्थ्य सम्बन्धी न्यूनतम मानवीय आवश्यकताए शामिल होती है I निर्धनता की दो विभिन्न अवधारणाए होती है : सापेक्ष निर्धनता निरपेक्ष निर्धनता   सापेक्ष निर्धनता : सापेक्ष निर्धनता से अभिप्राय विभिन्न वर्गो प्रदेशो या दुसरे देशो की तुलना में की जाने वाली निर्धनता से है I जिस देश या वर्ग के लोगो का जीवन स्तर या निर्वाह स्तर निचा होता है वे उच्च जीवन स्तर या निर्वाह स्तर के लोगो या देश की तुलना में गरीब या सापेक्ष रूप से निर्धन माने  जाते है I   निरपेक्ष निर्धनता : भारत में निरपेक्ष निर्धनता…
Read More